राजस्थान एनआरएचएम यूनियन वेबसाइट में आपका हृदयपूर्वक स्वागत हैं

email id - nrhm.rajasthan.union@gmail.com

राजस्थान एनआरएचएम नर्सेज एसोसिएशन

 

 

''Mamtamai Maa Kaali ki Jai"/ " Hare kei sahare ki jai"  / "Khatu wale Naresh ki jai'' 

इस वेबसाइट में लोगों की निरीक्षण संख्या

 
संविदा प्रथा एक केन्सर के समान है व आधुनिक भारत में गुलाम बनाने की घिनोनी प्रथा है ।

 
ताजा खबर :-

दिनांक – 15/04/2015 यूनियन ने की स्वास्थ्य मन्त्री जी से मुलाक़ात

आज सुबह तड़के ही राजस्थान एनआरएचएम नर्सेज एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष देवाराम चौधरी के नेतृत्व में प्रदेश भर के संविदा नर्सेज स्वास्थ्य मन्त्री जी के सिविल लाइन्स स्थित आवास पर इकठ्ठा हुए और उन्हें उनकी आगामी विदेश यात्रा के लिए शुभ कामनाये दीl उनसे मुलाक़ात कीl यूनियन ने मन्त्री जी से लम्बी वार्ता में स्पष्ट बिन्दुओ पर बात कीl

  • अस्थाई चयन सूचि में चयनित नर्सेज (8641 नर्स ग्रेड 2 + 5559 एएनएम) को शीघ्र नियुक्ति देने हेतुl
  • पदो की संख्या विज्ञापित पदो के सामान (15773 नर्स ग्रेड 2 + 12248 एएनएम) बनाये रखने हेतुl
  • सन 2003 से लगी प्रोविजनल एएनएम व आरसीएच एएनएम का सर्विस रिकॉर्ड शीघ्र पूर्ण कर उन्हें भर्ती में चयन होने का मौका देनाl

आज मन्त्री जी से मिलने के बाद यूनियन का भर्ती से सम्बंधित अधिकारियो से मिलने का दौर जारी रहेगा जिसकी विस्तृत जानकारी आज शाम तक प्रसारित की जाएगीl


दिनांक – 15/04/2015 को जयपुर कूच …………. चलो जयपुर
दिनांक 13 अप्रैल से यूनियन सरकार पर इस भर्ती को पूरा करने के लिए लगातार दबाव बना कर रखेगीl जिसके क्रम में –
दिनांक 13/04/2015 को यूनियन ने जयपुर में भर्ती से सम्बंधित सभी अधिकारियो पर इस भर्ती के तुरन्त निस्तारण हेतु दबाव बनायाl
दिनांक 14/04/2015 को यूनियन के तत्वाधान में चुरू में स्वास्थ्य मंत्री जी के आवास पर भारी संख्या में अभ्यार्थी उन से मिल कर इस अटकी हुई भर्ती के तुरन्त निस्तारण के लिए दबाव बनायेंगेl
इसी क्रम में दिनांक 15/04/2015 को सम्पूर्ण प्रदेश के समस्त चयनित अभ्यार्थियों को जयपुर आना हैंl इस अटकी हुई भर्ती के उचित निस्तारण हेतु दिनांक 15 अप्रैल को समस्त चयनित अभ्यार्थी जयपुर में सुबह 6 बजे स्वास्थ्य मंत्री जी के सिविल लाइन्स स्थित आवास पर उनसे मुलाक़ात करेंगेl
दिनांक 15 अप्रैल को जयपुर के विशेष प्रयोजन हेतु प्रदेश कार्यकारिणी के निम्न सदस्य मुख्या भूमिका में रहेंगे
मनफूल पूनिया (7726973526)
मनीराम चौधरी (9929960052)
रामावतार चौधरी (9982580979)
रमाकान्त शर्मा (9351603103)
राघव प्रताप सिंह (9829199956)
ब्रहम प्रकाश जी (9829578606)
ऋषिराज जी (9001972304)
डालुराम जी (9166237454)
मोहन लाल जी (9166622745)
अंजुम ताहिर शेख (9214316883)
दीपक मीणा (7597071270)

दिनांक – 13/04/2015 यूनियन ने धावा बोला जयपुर पर
आज दिनांक 13/04/2015 को यूनियन के समस्त प्रमुख प्रतिनिधियों ने आज अटकी हुई भर्ती को पूरा करने के लिए जयपुर पर धावा बोल ही दियाl हमें इन कुछ चुनिन्दा लोगो का अहसानमंद होना चाहिए जिनमे देवाराम चौधरी जी समेत यूनियन के समस्त प्रभावी कार्यकर्ताओ ने जयपुर पहुच कर स्वास्थ्य भवन तथा निदेशालय पर धावा बोलते हुए वर्तमान में चिकित्सा विभाग की अटकी हुयी नर्सेज भर्ती से सम्बंधित सभी अधिकारियो से भर्ती को शीघ्र पूर्ण करने हेतु एक अहम् मांग रखीl
इस क्रम में देवाराम चौधरी जी की अध्यक्षता में यूनियन प्रतिनिधियों ने सर्वप्रथम अतिरिक्त निदेशक महोदय दिनेश जांगिड से मिल कर उनसे भर्ती के अटकने के समस्त कारणों की समीक्षा कीl इसके पश्चात यूनियन प्रतिनिधियो ने प्रमुख शासन सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) मुकेश शर्मा जी, प्रमुख सचिव (वित्त) प्रेम सिंह मेहरा एवं मुख्य सचिव सी. एस. राजन जी से मिल कर उनसे स्पष्ट रूप से दो सूत्रीय मांग रखीl
  • चयन से वंचित रहे नर्सेज की नियुक्ति सुनिश्चित करने हेतुl
  • प्रोविजनल रूप से चयनित नर्सेज को शीघ्र नियुक्ति देने हेतुl
कल दिनांक 14/04/2015 को राजस्थान एनआरएचएम नर्सेज एसोसिएशन की योजना के अनुसार चुरू जिले में स्वास्थ्य मंत्री जी के आवास पर उक्त मांगो को लेकर चुरू जिले की कार्यकारिणी के जिला अध्यक्ष विजय मीणा (7690901790) एवं सुनील शर्मा (9636161212), बलजीत पूनिया, नरेन्द्र मीणा, सुरेश, महेंद्र, सुनैना, निर्मला, सुमन, सरोज चौधरी, कविता, प्रवीना, भंवरी करवासरा, सुभाष सिहाग, शर्मीला कटेवा, सुशील शर्मा, प्रवीण पंचारिया, शिव कुमार शर्मा, मुकेश शर्मा, महेंद्र फोगावाट, मुद्रा, गीता, कलीरानी, विध्या चौधरी को यह जिम्मेदारी दी गयी हैं की वो प्रदेश यूनियन द्वारा उपरोक्त मांगो को लेकर स्वास्थ्य मंत्री महोदय को मांग पत्र सोंप कर मांगो को जल्द पूरी करवाने का प्रयास करेगे |

दिनांक - 13/04/2015                                फिर बड़ी परिवेदना की तिथिl 
दिनांक 10/04/2015 को परिवेदना का समय दूसरी बार समाप्त होने के पश्चात एक बार फिर से दिनांक 15/04/2015 को विभाग द्वारा फिर से ऑफलाइन परिवेदनाये मांगी गयी हैं।
इसका एक फायदा यह हैं की कोर्ट में इस भर्ती के अटकने की सम्भावनाये काफी कम ही जायेगी पर एक संशय यह भी हैं की नियुक्ति को फिर से लटकाया जा रहा हैं।
image

दिनांक - 10/04/2015 :-  11 अप्रैल का जयपुर में नही होंगे स्वस्थ मंत्री अतः भारी संख्या में जाने का औचित्य नही ।
कल दिनांक 11/04/2015 को स्वास्थ्य मन्त्री राजेंद्र सिंह जी राठौड़ जयपुर में उपस्थित नहीं रहेंगे जिस कारण कल जयपुर में में लोगो की भारी भीड़ के साथ मन्त्री जी के आवास पर उनसे मिलने का प्रोग्राम अगले अवसर तक के लिए निरस्त किया जाता हैं।
मन्त्री जी से उनके आवास पर मिलने की अगली तिथि का प्रकाशन शीघ्र ही किया जायेगा।
अगली बार मंत्री जी की जयपुर में उपस्थिति सुनिश्चित कर उनसे उनके आवास पर मिल कर सभी साथीगण यूनियन के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में मंत्री जी से निम्न बिन्दुओ की मांग उनके सम्मुख रखेंगे।
पदों की संख्या को यथावत रखा जाये।
शीघ्र नियुक्ति दी जाये।
सभी साथियो को सूचित किया जाता हैं की पदों की संख्या को यथावत बनाये रखने की यूनियन की मांग पर सभी अधिकारी सकारात्मक प्रतिक्रिया दे रहे हैं। इसके लिए धरातल पर सकारात्मक परिणाम तक यूनियन द्वारा प्रयास किये जाते रहेंगे।
जिन लोगो का सलेक्शन पूरे पदों पर भर्ती होने के बाद भी नहीं होगा ऐसे कई लोग इस भर्ती को अटकाने के लिए सुनियोजित प्रपंच रच रहे हैं इसलिए ऐसे लोगो के बहकावे में न आए ।
सोमवार दिनाक 13/4/2015को सभी जिलो में देना है फैक्स न नेट से लेना है। यह ज्ञापन 33 जिलो में सोमवार को इनको कलेक्टर के माद्यम व फेक्स व कोरियर से दिया जावे ।
1. मुख्य मंत्री के फैक्स न..........
2. चिकित्सा मंत्री फैक्स न....................
3. phs..fax no ..............................
4. अतिरिक्त निदेशक फैक्स न.............
 
ज्ञापन का प्रारूप :-
सेवामे
श्रीमान् ........................
विषय नर्सेज की दो सूत्री मांग के बाबत
महोदय 
विषयान्तर्गत निवेदन है क़ि राज्य सरकार द्वारा चिकित्सा एव स्वास्थ्य विभाग में 28000 के करीब नर्सेज की भर्ती प्रक्रियाधीन है जिनमे 8641 नर्स ग्रेड द्वित्तीय 5559 एनम् की प्रोविजनल चयन सुची जारी कर परिवेदना ले ली गई है अब हमारी माग है ।
1. प्रोविजनल रूप से चयनित 14200 नर्सेज को जल्द नियमत नियुक्ति देने निवेदन।
2. चयन से वचिंत रहे नर्सेज को दितीय चयन सूची जारी करने हेतु निवेदन।
अतः श्रीमान से निवेदन है कि प्रदेश में चिकित्सा के ढाचें को मजबूती देने तथा पद रिक्त्ता की समस्या से निजात दिलाने के लिये उपरोक्त दो सूत्री मांगो को जल्दी पूरा करवाने की कृपा करावे । 
भवदीय 
जिला अध्यक्ष नाम...........
जिला .............................

 
दिनांक - 01/04/2015 :- यूनियन तीन दिनों के प्रयासों से हटे भर्ती से रद्द होने के बादल ।
पिछले 3 दिन में देवाराम व यूनियन की माइंड व नवीनतम कोर ग्रुप टीम के किया यह असाध्य कार्य
 
मित्रो संकट फिर से काला अंधकार ला सकती है , सो इस भर्ती के करवाने के जो भी इच्छुक कर्मी हो वे 24X7 एक्टिव रहे व यूनियन के किसी मी आदेश पर जयपुर कूच लिए रहे तैयार ; यूनियन के आदेश पर इस समय सी.एल या बिना सेलेरी के भी जयपुर आना पड़े तो 24X7 तैयार रहे।
 
1. नर्स ग्रेड 2 व anm की जल्द 2 डी लिस्ट होगी जारी ; नर्स ग्रेड 2 व ANM के पद भी बढ़ाए गए । अब न रहेगा कोई भी वंचित ।
कम % वाले विस्वासघाती टीम मेंबर का यह पुरजोर प्रयास रहा किसी प्रकार यह भर्ती को रुकवा दिया जावे इस बाबत उन्होंने कई घिनोने प्रपञ्च रचे ; 3 दिन पहले जब देवाराम आए तब यह स्पस्ट हो गया था की यह भर्ती गुस गयी ; और घर जलाने वाले अपने ही है ; और यह भी स्पस्ट हुआ की कोई सम्भावना नही बची इस भर्ती के बचने में ; सो प्रयास हुए इस भर्ती को कैसे बचाया जावे इससे लिए देवाराम व नवीनतम टीम द्वारा वार्ता में मल्टीपल दौर हुए ; वार्ता मंत्री से लेकर पी.अच.अस व एडिसनल डाइरेक्टर प्रशाशन से कई दौर की वार्ता हुई और उसका नतीजा आज मिला की यूनियन पोस्ट बड़वाने में कामयाब रही । विश्वासघटियो के मुह पर यह करारा तमाचा है की प्रदेश को यह स्पस्ट किया गया की उनके असल हितेषि कौन है ।
 
2. नर्से ग्रेड 2 व anm की पुनः ली जाएगी परिवेदना ; अगले 24-48 घंटो में डाली जा सकती है लिस्ट ।
जयचन्दों के कुचक्र का नतीजा है जहा फाइनल मेरिट लिस्ट आनी थी पर पुनः परिवेदना मांगी गई । चाल इस विश्वासघटियो की तो यह थी की प्रकिया को इतना उलझा दो की भर्ती ही न हो सके पर इसका निस्तारण हुआ उन्ही के जबानी पर सख्त रूप में ; गलत परिवेदना पर होगी क़ानूनी कार्यवाही होगी, सो मजाक में न ले परिवेदना को ; ध्यान रहे मिथ्या परिवेदना की सूरत में क़ानूनी कार्यवाही होने पर नही हो पाएगी पूरी जिन्दंगी सरकारी नौकरी ।
 
3. आज जोधपुर व जयपुर में हुई सुनवाई में नही लगा कोई स्टे ; पोस्ट कम करने पर विभिन्न कोर्ट में 10 /20/28 दिनों में माँगा जवाब ।
कोई भी स्टे न आना भी देवाराम जी के कुशाग्र बृद्धि का परिणाम है एक पूरा दिन तमाम केस की लिस्ट निकली गई व कोर्ट रुम वाइस सारी डिटेल्स सूचि बना कर अडिशनल डायरेक्टर प्रशाशन साब को दी गई ; जुझारू एडिशनल साब ने वकीलो को डिटेल्स दी और स्टे न लगवाने के लिए पूर्ण प्रयास के लिए आस्वस्त किया ।

 
दिनांक - 30/03/2015 :-       द्रतीय चयन सूचि की मांग की आड़ में भर्ती को निरस्त करवाने का षडयंत्र  
 
 
शनिवार को जब सभी लोग उत्साह से द्रतीय चयन सूचि की मांग को लेकर जयपुर में डटे हुए थे तब कुछ लोगो ने सुनियोजित तरीके से उनका प्रयोग भर्ती को निरस्त करवाने के लिए कियाl और यह सब हुआ सोच समझ कर ....... एक कुप्रपंच के जरिये ........... जिसके लिए बाकायदा एक सम्मानीय अधिवक्ता की राय भी ली गयीl ........... द्रतीय चयन सूचि की आस लगाये बैठे लोगो को किया गुमराह l
 
घटनाक्रम की शुरुआत होती है उस दिन से जब प्रथम अस्थायी चयन सूचि जारी की गयीl उस चयन सूचि में चयन से वंचित रहे कुछ लोगो ने इस बात का अंदाजा लगा लिया की यदि पूरे पदो पर भी भर्ती की गयी तब भी उनका चयन नहीं होगा ऐसे में उनके पास इस भर्ती को निरस्त करवाने के अतिरिक्त और कोई रास्ता नहीं बचाl
 
इन्होने बाकायदा इस भर्ती को रद्द करवाने के लिए एक बहुत ही प्रतिष्ठित वकील से बात की और उस वकील ने इन्हें राय दी की -
 
★ इस भर्ती में ली जा रही परिवेदनाओ की वजह से इस पर स्टे लेना या इसे रद्द करना बहुत मुश्किल है क्यों की परिवेदनाओ के समाप्त होते ही जोइनिंग दे दी जाएगीl
 
★ यदि किसी भर्ती में जोइनिंग ही ना दे अर्थात यदि कोई भर्ती शुरू ही ना हो तो उसे बहुत से मुद्दे खड़े कर के रोका जा सकता है परन्तु यदि जोइनिग ही जो जाएगी तो फिर उसे कैसे रोका जायेगा ऐसे में इस को भर्ती को कोर्ट खुलने तक (6 अप्रेल तक) रोके जाने का षडयंत्र शुरू हुआl
 
★ इसके लिए वकील साहब ने कहा की यदि इन परिवेदनाओ को और अधिक विवरण के साथ फिर से माँगा जाये तो निश्चित रूप से 6 अप्रेल तक किसी को जोइनिंग नहीं दी जा सकेगी ऐसे में इसे रोकने की जिम्मेदारी में लेता हूँl
 
★ इस षडयंत्र को सफल बनाने के लिए शनिवार को देवाराम चौधरी को जयपुर नहीं आने के लिए विवश किया गयाl 
 
★ देवाराम की अनुपस्थिति में लोगो की भारी तादाद के सामने द्रतीय लिस्ट जारी करवाने की बात करी गयीl
 
★ मन्त्री जी से बही सभी लोगो के सिलेक्शन के बारे में बात की गयीl
 
★ अतिरिक्त निदेशक महोदय से पहला वाक्य जो कहा गया वह था की साहब इस भर्ती में बहुत अनियमितताए हैं इसलिए आप इस भर्ती को रद्द ही कर दो और जब अतिरिक्त निदेशक ने कहा की इसके लिए तो परिवेदानाये ली ही जा रही हैं यदि किसी प्रकार कोई कोई भी अनियमितता होगी तो वह पकड़ में आ जाएगीl इस पर फर्जी प्रतिनिधि दल ने कहा की साहब हमारा तो सिलेक्शन ही नहीं हो रहा हैंl इस बाबत इन लोगो ने अतिरिक्त निदेशक महोदय से नयी भर्ती निकालने के लिए व उस नयी भर्ती में रखे जाने वाले नियमो की भली भांति जानकारी लीl और उस से संतुष्ट हो कर इन्होने अतिरिक्त निदेशक महोदय को वकील साहब का दिया कोई लैटर उन्हें दिया जिसमे परिवेदना लेने के लिए प्रयोग किये गए तरीके की खामियों को ढूंड कर उन्हें उजागर किया गया तथा फिर से परिवेदानाये लेने का निवेदन किया गयाl
 
★ परिवेदना फिर से लेने की बात सुन कर अतिरिक्त निदेशक जी ने कहा की क्या सच में आप इस भर्ती को निरस्त ही करवाना चाहते हो क्यों की इस प्रकार की परिवेदना लेने से तो यह भर्ती कभी पूरी हो ही नहीं पायेगी तो प्रत्युत्तर में उनका कहना था की ऐसे भी कौन सा हमारा सिलेक्शन हो रहा हैंl
 
★ परिवेदानाये वापस लेने का प्रपंच तीन लक्ष्यों को साधने के लिए किया गया हैं 
 
    1. किसी की जोइनिंग ना होl
 
    2. परिवेदनाओ में उलझा कर भर्ती को निरस्त कराया जा सकेl
 
    3. जैसे तेसे कोर्ट की सभी छुट्टिया समाप्त हो और 6 अप्रेल से कोर्ट के निरंतर सञ्चालन के समय इस भर्ती को कोर्ट में उलझा दिया जायेl
 
★ देवाराम चौधरी की हर बार सिर्फ दो मांगे ही रही हैं पहली यह की पूरे पदो पर नियुक्ति की जाये व दूसरी यह की जितनी जल्दी हो सके यह भर्तिया होनी शुरू हो जिससे इस भर्ती को प्रतिकूल परिस्थितियों में भी जिन्दा रखा जा सकेl ऐसे में अपनी मांगो को बदलने से या बहुत सारी मांगो के रखने से भर्ती खटाई में जाने की प्रबल सम्भावनाये बननी ही थीl
 
★ देवाराम चौधरी को मन्त्री जी के पास जाने व उनसे वार्ता करने से रोकने के लिए मासूम एएनएम बहनों का सहारा लिया गया उन्हें भड़काया गया जिस से उन्हें लगा की देवाराम की वजह से ही इस भर्ती में उनकी सीट कम की गयी हैं अरे बहनों तो क्या वर्तमान में राजस्थान में विभन्न विभागों में लंबित प्रत्येक भर्ती में जो सीट कम की गयी हैं उसका कारण भी देवाराम चौधरी ही हैंl थोडा तो सोचा करोl आखिर आपकी इस नासमझी ने भर्ती को निरस्त करवाने के कगार पर पंहुचा ही दियाl
 
★ लंबित भर्ती में पदो की संख्या बड़ाई जा सकती हैं यह एक आसान काम हैं परन्तु भर्ती के निरस्त होने के बाद इतने पदो पर भर्ती करना तो निश्चित रूप से असंभव हैंl
★ देवाराम चौधरी के साथ पूरे राजस्थान के सभी संविदाकर्मियो को तुरन्त एक्शन में आ जाना चाहिए और इस भर्ती को बचाने के यथा सम्भव प्रयास किये जाने चाहिएl

 
दिनांक - 28/03/2015 :-  खरी खरी ......
 
★★★भर्ती पर गहराया संकट ★★★
 
आज पुरे दिन का विश्लेषण यही रहा की सरकार की तो मंशा तो इस इस भर्ती को करने की थी ही नही; बाकि कसर हमारे बीच बैठे कुछ जयचंदो के कारण यह भर्ती रुकने के तरफ बड़ रही है।
 
आज हुए हँगामे में इन्ही मुखयतः एक नवीनतम पैदा हुए जयचन्द के षडयंत्रो में हेल्थ मिनिस्टर की गाड़ी रोक ली गई वंचित वर्ग के द्वारा व इस भर्ती को निरस्त करने के लिए कहा गया , नाराज हो प्रशसनिक अधिकारी ने इस भर्ती को न करने की बात की ।
 
एक बात समझ के परे है जब मंत्री मान गया बाकि पोस्ट और क्रिएट की जा रही है व उन पर जल्द भर्ती होगी ; फिर यह षड्यंत्र क्यों ?
 
पर यह सब क्यों हुआ कारण जरा जाच लेवे -
 
1. इस हंगामे में वो शख्स शामिल है जो बहुत कम % के है जो की 2nd लिस्ट में भी शामिल नही हो पाएंगे । अतः वो यह पूरी भर्ती कैंसिल चाहते है और नए पैमाने में भर्ती चाहते हैं इसका षड़यँत्र का सूत्रधार नया नया पैदा हुआ जयचंद है। ( पुनः सुधरने के बात पर नाम मै नही दे रहा ; पर वयक्तिगत तौर पर मै यह जनता हु ऐसे लोग नही बदलते )
 
2.★★★ जो प्रथम लिस्ट में आ गए है वो घरो में आराम से बैठे है। उनको बता दू उनका आलस इस भर्ती को डुबो देगा । अगर जयपुर आकर आपने मिनिस्टर साब व अधिकारियो को पेशर नही किया तो भर्ती कैंसिल होगी।★★★
 
3. इमोश्ननल कार्य कारिणी के सदस्य जो वचित बर्ग के सलेक्सन करवाने में मदद को गए ताकि 2nd लिस्ट निकले पर उन्ही वंचितो में मौजूद कम % वाले जयचंद के षड्यंत्र का शिकार हो गए क्योकि उसी जयचंद ने भीड़ को भड़का कर इस भर्ती को कैंसिल की साजिस रची।
 
4. मौजूद कोर्ट केस से इस भर्ती को क्या आघात पहुचता है यह तो समय ही बतायगा।
 
→कुछ सख्त निर्णय लेने में होंगे और आप भी लेवे ।
 
1. मिडिया प्रकोस्ट को स्वय के प्रीवियु में लेता हू।
 
2. देवाराम व अन्य यूनियन के सदस्य को यूनियन की माइंड सेल यह निवेदन करती है की आप प्रथम सूचि में सम्मिलित लोग तुरंत यह लिस्ट निकलने के लिए भारी संक्या में जयपुर आए और लिस्ट निकलने तक जयपुर डटे रहे।
 
3. साथ-साथ यह भी सुनिष्चित करे की यह भर्ती कैन्सिल न हो व 2nd लिस्ट जल्द से जल्द निकले ताकि हमारे वंचित भाई आ सके ; पर अगर इस भर्ती को रोकने का षड्यंत्र हुआ जैसा आज हुआ उसका मुह तोड़ जवाब दिया जाए।
 
★★★प्रथम लिस्ट के कैंडिडेट को क्या करना चाहिए ★★★
घटना क्रम से परिस्तिनीति बदल हई है अब अगर लिस्ट चाहिए तो मित्रो जयपुर कूच की तैयारी करो और 3 दिन रुकने का प्रोग्राम बना कर आओ 30/31/1 .
 
अब 30 को किसी भी सूरत में लिस्ट निकलवानी है अगर 30 या 31 को आप लिस्ट निकलवा पाते है तब आपका भविष्य सुरक्षित है । 1अप्रैल तक घर बैठे रहना मूर्खता होगी अगर एक दिवस की भी देरी होती है तो अनर्थ हो सकता है सम्भव भी है यह भर्ती रद्द हो। 
बहुत सम्हाला हमने वंचित वर्ग के भाइयो को एक तरफ तो उन्होने कोर्ट में दर्जनों केस फाइल किए है दूसरी और यहा यह भर्ती रद्द करवाने की चेस्टा कर रहे है । इसे बर्दास्त नही किया जा सकता । सदाचार तब तक सम्भव है जब तक उस सदाचार के व्यवहार पर हमारा व्यभिचार न हो । अगर हमने 2nd लिस्ट की हमने वकालत न की हो बोले पर आप लोगो का तर्क की प्रथम लिस्ट की जॉइनिंग न हो जब तक 2एन्ड लिस्ट न निकले यह कोण सा तर्क है । यह कुंठित सोच के साथ प्रपञ्च की निंदा करते है।
 
 
अतः प्रथम लिस्ट बाले जयपुर में राठौर साब व जाँगिड़ साब के पैर पड़ कर लिस्ट तुरंत निकलने को कहे । अपने साथ फूल माला; बुके इत्यादि भी लावे ; हम प्रेम से शांति से पुष्प से उनकी वन्दना कर उनके क्रोध को शांत करेंगे।
 
साथ साथ हमारे पीठ पर वार करने वाले वंचितो के लिए भी हम वकालत करे और 2nd लिस्ट जल्द से जल्द निकलने के लिए राठौर साब से व जांगिड़ जी से भी नम्र निवेदन करेंगे ।

 
 
दिनांक - 27/03/2015 :- यूनियन रहेगी एक : बटेगी जिम्मेदारी  
 
राजस्थान की सबसे बड़ी नर्सेज एसोसिएशन राजस्थान एनआरएचएम नर्सेज एसोसिएशन ने प्रदेश अध्यक्ष देवाराम चौधरी जी एवं प्रदेश संरक्षक अभिनीत भारद्वाज जी के सानिध्य में राजस्थान के इतिहास की सबसे बड़ी नर्सेज भर्ती  की सार्थक परिकल्पना की एवं अथक एवं अनवरत प्रयासों से इस भर्ती को अपने अंजाम तक पहुचाया जिसके लिए हम इन युग पुरुषो को सादर नमन करते हैंl
 
देवाराम चौधरी जी एवं अभिनीत भारद्वाज जी के नेतृत्व में ही आज इस भर्ती में 8641 साथी नर्स ग्रेड 2 के पद पर एवं 5559 बहने महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता के पद पर चयनित हो चुके हैं एवं चयन से वंचित रहे शेष साथियों के लिए संघर्ष जारी हैंl इसी संघर्ष के क्रम में कल देवाराम जी समेत यूनियन के 4 के साथ  स्वास्थ्य मन्त्री जी सहित भर्ती से जुड़े सभी प्रमुख कर्मचारियों के साथ एक मीटिंग होनी हैं जिसमे चयन से वंचित रहे साथियों के लिए कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए जा सकते हैंl        
कल होने वाली इस महत्वपूर्ण मीटिंग के सम्बन्ध में कुछ ऐसे साथी भी हैं जो अभिनीत भारद्वाज जी के समक्ष यह इच्छा प्रकट कर रहे हैं की कल की मीटिंग में देवाराम चौधरी जी को उपस्थित नहीं रहना चाहिएl उनका मानना हैं की देवाराम चौधरी जी एक चयनित अभ्यार्थी हैं जो हो सकता हैं की कल की मीटिंग में चयन से वंचित रहे साथियों के पक्ष में दमदार पैरवी नहीं कर पाएl इनका यह भी मानना हैं की अगली लिस्ट के जारी होने तक वर्त्तमान में चयनित अभ्यार्थियों को जोइनिंग%2


go to top